दिल्ली देश-विदेश राजनीति रोजगार सीहोर

मजदूर विरोधी फांसीवादी नितियों के खिलाफ पूरा भारत 16 को बंद, किसानों पर दमन मंहेंगा पड़ेगा -बैरागी

मजदूर विरोधी फांसीवादी नितियों के खिलाफ पूरा भारत 16 को बंद,  किसानों पर दमन मंहेंगा पड़ेगा -बैरागी

कबीर मिशन समाचार जिला सीहोर, सिहोर से संजय सोलंकी कि रीपोर्ट 9691163969।

अखिल भारतीय किसान सभा

सीहोर।अखिल भारतीय किसान सभा के प्रांतीय महासचिव, संयुक्त किसान मोर्चा मध्यप्रदेश संयोजक प्रहलाद दास बैरागी ने कहा है कि 16 फरवरी को औधोगिक हड़ताल, ग्रामीण वंद , रहेंगे, केंद्र और राज्य सरकार की किसान और मजदूर विरोधी फांसीवादी नितियों के खिलाफ यह वंद है.

एक तरफ केंद्र सरकार डा एम एस स्वामीनाथन जी को भारत रत्न से सम्मानित किया जा रहा है और दूसरी तरफ उनके द्वारा जो किसानों के लिए वनाऐ गाऐ अयोग की सिफारिश की मांग करने वाले किसानों को दिल्ली आने से रोकने के लिए पाकिस्तान की सीमा पर जो इंतजाम नहीं वह हरयाणा और दिल्ली के रोड पर किले,दीवार खड़ी की गई जो दर्शाती है केंद्र सरकार की रगों में जरनल डायर लहू और मंनसीकता है

मध्य प्रदेश के संयुक्त किसान मोर्चा के साथ 27 किसान संगठन जुड़े हैं तथा संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा किसानों और मजदूरों के मुद्दों को लेकर अहिंसात्मक तरीके से आंदोलन किये जा रहे हैं। मध्य प्रदेश में किसान नेताओं की धारा 151 के तहत गिरफ्तारी की गई है। हरियाणा। की सरकार द्वारा पंजाब के प्रदर्शन कारी किसानों को रोड पर किले गाड़कर , डिवाइडर लगाकर, अंशु गैस से, रावड की गोलियां चलाकर किसानों पर जानलेवा हमला किया जा रहा उसकी हम कड़े शब्दों में निन्दा करते हैं अनावश्यक, अलोकतांत्रिक एवं संविधान विरोधी है।

श्री बैरागी ने कहा केंद्र सरकार से मांग करते हैं किसानों को सभी कृषि उत्पादों की एमएसपी (सी-2 + 50%) पर खरीदी की कानूनी गारंटी, सभी किसानों की सम्पूर्ण क़र्ज़ा मुक्ति, किसानों को प्रति माह 10 हजार रुपए पेंशन, राष्ट्रीय स्तर पर न्यूनतम वेतन प्रति माह 26,000 रूपये कराने, मजदूर विरोधी चार श्रम संहिता वापस लेने, मनरेगा मजदूरों को 200 दिन, 600 रूपये प्रतिदिन की मजदूरी देने, अनावारी की इकाई पटवारी हल्का की जगह किसान का खेत बनाने, आवारा पशुओं से नष्ट हुई फसलों का मुआवजा देने की मांग करते रहे हैं ।

About The Author

Related posts