इंदौर क्राइम मंदसौर मध्यप्रदेश

मंदसौर। 29 वर्षों से हत्या के मामले फरार आरोपी इंदौर से चढ़ा पुलिस के हत्थे

मंदसौर। 29 वर्षों से हत्या के मामले फरार आरोपी इंदौर से चढ़ा पुलिस के हत्थे

मंदसौर

29 वर्षो से हत्या के मामले मे फरार 10 हजार के ईनामी बदमाश उदय सिंह उर्फ उदा को पुलिस चौकी भेसोदामंडी थाना भानपुरा के द्वारा किया गया गिरफ्तार, घटना करने के बाद आरोपी नाम बदलकर इन्दौर में रहकर कर रहा था मादक पदार्थ की तस्करी ।

कबीर मिशन समाचार पत्र
सुरेश मैहर संवाददाता गरोठ जिला मंदसौर

1994 मे आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर रेल्वे स्टेशन भवानीमंडी के बाहर भेसोदा मंडी निवासी रामुलाल माली की चाकु मारकर की थी हत्या, घटना दिनांक से ही आरोपी था फरार

मंदसौर पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया जी के द्वारा जिले मे लंबे समय से फरार ईनामी वारंटियों की गिरफ्तारी हेतु लगातार अभियान चलाया जा रहा हे जिसके प्रभावी क्रियान्वयन हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मंदसौर श्री गौतम सोलंकी एवं SDOP गरोठ श्री राजाराम धाकड के द्वारा टीमें बनाकर मार्गदर्शन दिया जा रहा है।

जिसके फलस्वरुप भानपुरा थाना प्रभारी कमलेश प्रजापति के नेतृत्व मे भेंसोदा मंडी चौकी प्रभारी कपिल सौराष्ट्रीय को हत्या के मामले मे 29 वर्षो से फरार चल रहें 10 हजार के ईनामी आरोपी उदयसिंह उर्फ उदा उर्फ पप्पु पिता अनुपसिंह उर्फ गुलाबसिंह राजपुत उम्र 55 साल निवासी मालीपुरा भेंसोदामंडी को गिरफ्तार करने मे महत्वपुर्ण सफलता मिली हे ।

घटना का विवरण – दिनांक 10-07-1994 को रामुलाल पिता हजारीलाल माली उम्र 25 साल निवासी रेल्वे कालोनी भेसोदामंडी ने रिपोर्ट किया कि उस पर उदा पिता अनुपसिंह निवासी मालीपुरा , राजु पिता अनुपसिंह निवासी मालीपुरा तथा रोशन पिता सिराज मोहम्मद मुसलमान निवासी भवानीमंडी ने चाकु से हमला कर दिया था जिसकी रिपोर्ट पर थाना भानपुरा पर अपराध क्र 153/1994 धारा 307, 34 भादवि का कायम किया जाकर विवेचना मे लिया गया। दोराने ईलाज घायल रामुलाल माली की कोटा में मृत्यु हो गई जिससे प्रकरण में मे धारा 302 भादवि का ईजाफा किया गया था। प्रकरण में आरोपी रोशन पिता सिराज मोहमम्द मुसलमान निवासी भवानीमंडी को गिरफ्तार किया जा चुका था तथा घटना के बाद से ही उदा पिता अनुपसिंह निवासी मालीपुरा तथा उसका भाई राजु पिता अनुपसिंह निवासी मालीपुरा फरार हो गये थे जिनकी गिरफ्तारी के काफी प्रयास किये गये, प्रकरण का आरोपी उदय सिंह उर्फ उदा फरारी काटने इंदौर चला गया तथा नाम बदलकर पप्पु के नाम से इंदोर मे रहने लगा फरारी के दौरान आरोपी अवेध मादक पदार्थ की तस्करी करता था

वर्ष 1997 मे आरोपी उदय सिंह उर्फ उदा को थाना हीरानगर इंदौर में एनडीपीएस के प्रकरण मे गिरफ्तार किया था गंभीर अपराधो मे लंबे समय से फरार उद्घोषित आरोपियो की गिरफ्तारी हेतु मंदसोर पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अनुराग सुजानिया के द्वारा दिये गये निर्देशो का पालन करते हुये भेसोदामंडी चोकी प्रभारी कपिल सौराष्ट्रीय की टीम के द्वारा आरोपी उदयसिंह उर्फ उदा उर्फ पप्पु पिता अनुपसिंह उर्फ गुलाबसिंह राजपुत उम्र 55 साल निवासी मालीपुरा भेसोदामंडी थाना भानपुरा जिला मंदसौर को गोरीनगर इंदौर से गिरफ्तार किया गया । आरोपी की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक महोदय मंदसोर हेतु 10,000/- रुपये के ईनाम की उद्घोषणा जारी की गई थी ।
गिरफ्तार आरोपी – उदयसिंह उर्फ उदा उर्फ पप्पु पिता अनुपसिंह उर्फ गुलाबसिंह राजपुत उम्र 55 साल निवासी मालीपुरा भेसोदामंडी थाना भानपुरा जिला मंदसोर हाल गोरीनगर इंदोर
आरोपी का आपराधिक इतिहास –
01- 153/1994 धारा 307,34 भादवि इजाफा धारा 302 भादवि थाना भानपुरा ।
02- 154/1997 धारा 8/18 एनडीपीएस एक्ट थाना हीरानगर इंदोर ।
पुलिस टीमः- उक्त सराहनीय कार्य में थाना प्रभारी भानपुरा निरीक्षक कमलेश प्रजापति , उनि कपिल सोराष्ट्रीय चोकी प्रभारी भेसोदामंडी , सउनि बाबुलाल डामोर, प्रआर आशीष बैरागी साइबर सेल, आर 316 परिमाल सिंह का योगदान रहा है ।

About The Author

Related posts