भिंड रोजगार स्वास्थ

प्रिया गोल्ड फैक्ट्री में हादसे का शिकार हुआ नाबालिक श्रमिक, मैदा मिक्सर मशीन पर काम करते समय कटी उंगलियां, दर्द से कराहता रहा, मशीन काटकर 2 घंटे बाद निकाला हाथ

प्रिया गोल्ड फैक्ट्री में हादसे का शिकार हुआ नाबालिक श्रमिक, मैदा मिक्सर मशीन पर काम करते समय कटी उंगलियां, दर्द से कराहता रहा, मशीन काटकर 2 घंटे बाद निकाला हाथ

कबीर मिशन समाचार जिला ब्यूरो चीफ भिंड।

मालनपुर।औधोगिक क्षेत्र मालनपुर में संचालित कारखानों में सुरक्षा चूक के कारण आए दिन श्रमिक हादसे का शिकार होते हैं लेकिन जिम्मेदार महकमों में बैठे अधिकारी कारखानों में श्रमिक सुरक्षा नियम लागू कराने में नाकाम साबित हो रहे हैं जिसके चलते श्रमिक बगैर सुरक्षा उपकरणों के जान जोखिम में डालकर काम करते हैं और हादसों के शिकार हो जाते हैंl ऐसा ही एक मामला औधोगिक क्षेत्र मालनपुर में संचालित विक्रम आर्या (प्रिया गोल्ड )कंपनी में देखने को मिला कंपनी प्रबंधन द्वारा नाबालिग श्रमिक से बगैर सुरक्षा उपकरणों के खतरनाक मशीन पर काम कराया जा रहा था जिसके चलते वह हादसे का शिकार हो गया श्रमिक राहुल पुत्र सर्वेश कुमार उम्र 17 वर्ष निवासी चिकनाजत्ती जिला लखीमपुर खीरी उत्तर प्रदेश हाल मालनपुर ने श्रम अधिकारी को शिकायत की है शिकायत में उसने बताया है कि मैं प्रिया गोल्ड कंपनी में करीब 3 महीने से काम कर रहा हूं दिनांक 10 जून को सुबह 7 बजे कंपनी में ड्यूटी करने गया था कंपनी प्रबंधन द्वारा मुझे मैदा मिक्सर मशीन पर लगा दिया गया था मैंने मना किया कि मैं मशीन नहीं चला पाऊंगा बावजूद भी जबरन ड्यूटी पर लगाया गया तभी दोपहर बाद करीब 3 बजे के आसपास काम करते समय मशीन में मेरा दाया हाथ चला गया पास ही काम कर रहे मेरे भाई ने तत्काल मशीन का स्विच ऑफ कर दिया उंगलियां मशीन में बुरी तरह फंस गईं जिससे मेरी एक उंगली कट कर अलग हो गई और दो उंगलियां बुरी तरह कुचल कर टूट गई करीब 2 घंटा मेरा हाथ मशीन में ही फसा रहा और मैं काफी देर तक दर्द से कराहता रहा और काफी प्रयास के बाद मशीन के हिस्से को काट कर मेरी हाथ को निकाला गया और मुझे ग्वालियर निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया 3 दिन इलाज कराने के बाद मुझे अपने हाल पर छोड़ दिया अब कंपनी प्रबंधन द्वारा मुझसे कहा जा रहा है कि तुम अपने घर चले जाओ और उनके द्वारा मुझे कोई सहयोग नहीं किया जा रहा है और ना ही मेरे मेरे उपचार पर ध्यान दिया जा रहा है और मेरा आधार कार्ड भी मुझसे ले लिया है कंपनी प्रबंधन की लापरवाही के कारण मेरी उंगलियां कटी है मुझे जानबूझकर बगैर सुरक्षा उपकरणों से मशीन पर काम कराया गया इस कारण मेरे साथ हादसा हो गया और मैं जिंदगी भर के लिए अपंग हो गया कंपनी द्वारा मेरा पीएफ और ना ही ईएसआई काटा जा रहा थाl नाबालिक श्रमिक ने श्रम अधिकारी और पुलिस को शिकायत कर कंपनी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की हैl कंपनी में श्रमिकों से जबरन ओवरटाइम कराया जाता है और जिसका भुगतान भी नहीं किया जाता है l पूर्व में भी कंपनी प्रबंधन की लापरवाही के कारण इसी मशीन पर कई श्रमिक हादसे के शिकार हो चुके हैं*इन कंपनियों में भी हादसे के शिकार हो चुके हैं श्रमिक*(1) क्षेत्र में संचालित ज़ी टीवी कंपनी में भी सुरक्षा चूक के कारण एक श्रमिक का मशीन पर काम करते समय हाथ कट गया था जिसमें मालनपुर पुलिस ने फैक्ट्री मैनेजर नागेंद्र सिंह तोमर के विरुद्ध मामला दर्ज किया था(2) वेदांत प्लास्टिक कंपनी में नाबालिक श्रमिक का हाथ मशीन में चले जाने से कट कर अलग हो गया था पुलिस ने जिम्मेदारों के खिलाफ मामला दर्ज किया था(3 )वसुंधरा कंपनी में मशीन पर काम करते समय एक श्रमिक की उंगलियां कट गई थी पुलिस ने ठेकेदार के विरुद्ध मामला दर्ज किया था4 अमरजीत अमरजीत नामक तो भाइयों द्वारा संचालित कबाड फैक्ट्री की टीन सेट से गिरकर एक श्रमिक की मौत हो गई थी हालांकि फैक्ट्री प्रबंधन द्वारा श्रमिक के परिजनों से सांठगांठ कर मामले को दबा दिया था

About The Author

Related posts