विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
September 25, 2022

राजगढ़ – जिले के सभी हाईवे को दुर्घटना मुक्त बनाने के लिए जिला सड़क सुरक्षा समिति बैठक आयोजित

कबीर मिशन समाचार। राजगढ़ मध्य प्रदेश
पवन मेहरा,

राजगढ़। जिले के सभी हाइवे के ब्लेक स्पॉट को चिन्हित करने के लिए तीन सदस्यीय टीम सर्वे कर मुख्य मार्गो और ब्रिज के अत्यधिक व कम घुमावदार होने एवं दुर्घटनाओं पर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगी। जिससे जिले में सडक दुर्घटनाओं में किसी व्यक्ति की मृत्यु नहीं हो। टीम में संबंधित क्षेत्र के अनुविभागीय दण्डाधिकारी, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस और जिला परिवहन अधिकारी शामिल रहेंगे। यह निर्णय गुरुवार जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित जिला स्तरीय सडक सुरक्षा समिति की बैठक में लिया गया है। बैठक की अध्यक्षता सांसद रोड़मल नागर ने की। इस मौके पर विधायक राजगढ़ बापूसिंह तंवर, विधायक ब्यावरा रामचन्द्र दांगी, राजगढ़ नगर पालिका अध्यक्ष विनोद साहू, कलेक्टर हर्ष दीक्षित, पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी, सहित समिति के सदस्य मौजूद रहे।


बैठक में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के उपायों को गंभीर विचार- विमर्श के दौरान नेशनल हाईवे के अधिकारियों को हाईवे के कनेक्टिंग स्थलों को दुर्घटना मुक्त बनाने के लिए सख्त निर्देश कलेक्टर श्री हर्ष दीक्षित द्वारा दिए गए है। उन्होंने कड़े शब्दों में चेतावनी दी कि सड़क दुर्घटनाओं में व्यक्तियों की होने वाली मृत्यु में उनकी जिम्मेदारी तय की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने धारा-133 के तहत नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिए।
बैठक में नेशनल हाईवे पर भूमरिया, पपडेल की कनेक्टिंग उची होने और खुरी में नीची होने से दुर्घटनाएं होने के कारण मार्गो का तत्काल निरीक्षण करने के लिए टीम को निर्देशित किया गया है।

साथ ही सड़क मार्ग निर्माण एजेंसी को सड़क दुर्घटना वाले क्षेत्र को चिन्हित करने कॉमन डी.पी.आर. बनाने तथा शीघ्रतिशीघ्र कार्य कराए जाने के निर्देश दिए हैं। वाहनों को अधिक स्पीड से चलाने में हो रही दुर्घटनाओं को रोकने, राजगढ़ नगर में सड़क दुर्घटनाएं रोकने एन.एच.-52 पर बायपास बनाने और सर्विस रोड बनवाने, राजगढ़ नगर के सब्जी बाजार को शिफ्ट करने, नरसिंहगढ़ से ब्यावरा के बीच विद्युत व्यवस्था करने, नेशनल हाईवे भोपाल रोड पर बाईहेड़ा के आसपास अत्यधिक एक्सीडेंट वाले हाईवे पर गावों के मुख्य मार्ग से दुर्घटना रहित जोड़ बनाने। एवं हाईवे के किनारे जल भराव रहित हो इसके लिए पक्की नाली निर्माण कराने तथा तकनीकि कमियां नही रखने एवं हाईवे के किनारे N H की भूमि से अतिक्रमण हटाने आदि बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा कर निर्णय लिए गए हैं। इस अवसर पर समिति सदस्यों द्वारा मार्गो को दुर्घटना रहित एवं सुरक्षित आवागमन व्यवस्था के लिए अपने-अपने सुझाव भी बैठक में रखे गए।