विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
September 25, 2022

न रहेगा बाँस न बजेगी बाँसुरी, प्रेमी वॉडवॉय ने प्रेमिका नर्स को उतारा मौत के घाट, आरोपी ने किया सरेंण्डर

जिला चिकित्सालय में कट्टे की आवाज से मची अफरा-तफरी

पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का किया निरीक्षण

भिण्ड। न रहेगा बाँस न बजेगी बाँसुरी ये कहावत उस समय चरितार्थ में बदल गई जब जिला चिकित्सालय में शाम को करीब 4.45 बजे पर कट्टे की आवाज जैसे ही जिला चिकित्सालय के प्रागंण में गूँजी कि हर कोई दहशत में आ गया, चारों तरफ आवाज की तरफ भागे, लेकिन आवाज कहाँ से आई इस पर गहमा-गहमी चलती रही।

और आखिरकार उस वार्ड में तैनात महिला नर्स के खून उस कमरे से बाहर बहता नजर गैलरी में आया तो ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों में भय बैठ गया, और जैसे ही कमरे को झाँककर देखा तो उक्त महिला नर्स का शव फर्स पर पड़ा खून से लतपथ दिखा, तत्काल इसकी सूचना पुलिस चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों को दी गई।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी रीतेश शाक्य व मृतिका महिला नर्स नेहा चंदेला का प्रेम प्रसंग काफी दिनों से चल रहा था, लेकिन उक्त नर्स की शादी किसी और से होने की जानकारी जैसे प्रेमी को लगी तो उसने उक्त मृतिका नर्स को उस शादी करने से मना किया, लेकिन नर्स ने इसका विरोध किया, तभी आज आरोपी रीतेश शाक्य के सिर पर खून सबार होकर अपने साथ कट्टा लेकर जिला चिकित्सालय पहुँचकर उक्त नर्स की कनपटी पर रखकर गोली मार दी, जिससे महिला नर्स की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

और गोली मारकर आरोपी रीतेश शाक्य ने जिला चिकित्सालय की पुलिस चौकी में जाकर सरेंण्डर कर दिया, पुलिस विवेचना में जुट गई है कि आखिर आरोपी ने ये कदम क्यों उठाया।

मृतिका मण्डला की है निवासी

मृतिका नेहा चंदेला मण्डला निवासी है और भिण्ड जिला चिकित्सालय में विगत 2018 में नर्स के पद पदस्थ्य होकर कार्य कर रही थी, तथा वर्तमान मेें धर्मपुरी में एक किराये के मकान में निवास करती थी, मृतिका की मौत की सूचना परिवारीजनों को दे दी गई, परिवारीजन मण्डला से भिण्ड के लिए रवाना हो गये हैं।

नर्से उतरी हड़ताल पर।

सरेराह महिला नर्स की मौत पर साथी महिला नर्सों ने जैसे ही नर्स की मौत की सूचना लगी तो सभी ने एकजुटता का परिचय देते हुये काम बंद कर दिया, और अपनी सुरक्षा के लिए जिला प्रशासन से माँग की।

पुलिस अधीक्षक सहित तमाम आला अफसर पहुँचे जिला चिकित्सालय।

जिला चिकित्सालय में महिला नर्स की मौत की खबर जैसे ही पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान को लगी तो वह बिना देर किये जिला चिकित्सालय पहुँचकर सीधे मृतिका के रूम में पहुँचकर घटना के हर बारीकी बिन्दू पर विचार किया, जिला चिकित्सालय की मौत की खबर से भिण्ड का आवाम भी जिला चिकित्सालय पहुँचकर इस घटना के बारे में जानकारी जुटाता देखा गया।