उज्जैन देश-विदेश मध्यप्रदेश समाज स्वास्थ

उज्जैन। दुष्कर्म की घटना में बड़ा अपडेट, ऑटो वाले को पुलिस ने किया राउंडअप

कबीर मिशन समाचार
उज्जैन। मध्यप्रदेश।

12 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना, अर्द्धनग्न अवस्था में सड़कों पर घूमती रही, इंदौर में उपचार पुलिस टीम ने दिया ब्लड। बच्ची मध्यप्रदेश के सतना की रहने वाली बच्ची के पिता सतना में मजदूरी का काम करते है बच्ची ट्रेन या बस के माध्यम से उज्जैन पहुँची। तीन ऑटोवालों में एक मुख्य आरोपी है व दो अन्य लोगो को हिरासत मे लिया। खुद पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा पूरे घटना की जांच कर रहे है। बच्ची इंदौर के अस्पताल में उपचारत है और उसकी हालत में सुधार है सतना पुलिस से भी लगातार उज्जैन पुलिस संपर्क में है और सतना पुलिस में उज्जैन के लिए निकल चुकी है।

दुष्कर्म जैसे शब्द सुनते ही मन विचलित हो जाता है। छोटी छोटी बालिका सुरक्षित नहीं है। आख़िर कौन देगा सुरक्षा, कब होगी हमारी बेटियां सुरक्षित। जब ये बेटी सड़को पर अर्धनग्न अवस्था में घूम रही थी कोई तो सहारा दे सकता था, कहा गया वो समाज

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने लिखा है, कि “मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक लड़की ढाई घंटे तक दुष्कर्म के बाद अर्धनग्न अवस्था में खून से लथपथ सड़क पर भागती रही। देश भर में क़ानून व्यवस्था की लचरता शर्मसार करने वाली है। सरकारों की विफलता तो जग ज़ाहिर है लेकिन लोगों में इंसानियत भी ख़त्म होती जा रही है।”

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लिखा है,कि उज्जैन में एक छोटी बच्ची के साथ अत्यंत क्रूरतापूर्ण दुराचार का मामला देखकर रूह कांप जाती है। 12 साल की बेटी के साथ जिस तरह का दुष्कृत्य हुआ और जिस तरह से वह अर्धनग्न अवस्था में शहर के कई इलाकों में भागती रही और फिर बेहोश होकर सड़क पर गिर गई, उससे मानवता शर्मसार हो जाती है।


ऐसी जघन्य घटना प्रशासन और समाज के माथे पर कलंक है। मैं मुख्यमंत्री से जानना चाहता हूं कि क्या आप सिर्फ चुनाव ही लड़ते रहेंगे और झूठी घोषणाएं ही करते रहेंगे? क्या आप आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से बनी बेटियों की तस्वीरों से पूरे मध्य प्रदेश के होर्डिंग भर देंगे, लेकिन मासूम बेटियों की सुरक्षा पर कोई ध्यान नहीं देंगे? जिस बेटी के साथ यह दरिंदगी हुई क्या वह लाडली लक्ष्मी और लाडली बहना नहीं है? मुख्यमंत्री जी उज्जैन में पहले भी दो छोटी बच्चियों के साथ क्रूरतापूर्ण दुष्कृत्य हुआ था। प्रदेश में ऐसी क्रूर घटनाओं की पुरावृत्ति बताती है कि मध्य प्रदेश में कानून का राज समाप्त हो चुका है। मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री के होते हुए भी मुख्यमंत्री विहीन हो चुका है। अपराधी निरंकुश है और जनता परेशान है। मैं मुख्यमंत्री से मांग करता हूं कि अपराधियों को सख्त से सख्त सजा दी जाए और पीड़िता को समुचित उपचार के साथ ही एक करोड रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाए।

नाबालिग बच्ची से दुष्‍कर्म के मामले पर कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है, कि उज्जैन की घटना ने देश की आत्मा को शर्मसार कर दिया। 12 वर्ष की एक बेटी के साथ दुष्कर्म हुआ… बच्ची अर्धनग्न हालत में घंटों तक घूमते हुए देखी गई, उसके शरीर से खून का रिसाव होता रहा। मध्य प्रदेश में क्या हो रहा है? शिवराज सिंह चौहान और भाजपा को उल्लास मनाने से फुरसत मिले तब तो वे मध्य प्रदेश की बेटियों की चीख सुन सकेंगे… उस बेटी ने कहा कि उसकी मां के साथ भी गलत हुआ। सरकार सोई हुई है… इन दरिंदों को तुरंत गिरफ़्तार करना चाहिए।

About The Author

Related posts