विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
October 3, 2022

औद्योगिक क्षेत्र निमरानी की मॉडर्न डेयरी पर 4 विभागों की कार्यवाही

मिलावट से मुक्ति अभियान में 650 किलो. मिल्क पॉवडर, 1400 किलो, नाइट्रिक एसिड और 2100 किलो सल्फ़रिक एसिड बरामद

कबीर मिशन समाचार खरगोन

खरगोन जिला प्रशासन द्वारा मिलावटी मुक्ति अभियान के अंतर्गत जिले के औद्योगिक क्षेत्र निमरानी में दुग्ध उत्पाद से जुड़ी इंडस्ट्रीज पर राजस्व विभाग सहित खाद्य सुरक्षा, खाद्य आपूर्ति और श्रम विभाग ने संयुक्त रूप से कार्यवाही की है। इस कार्यवाही के लिए कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम द्वारा करीब 5 दिनों से रेकी कराई जा रही थी। बुधवार को पुख्ता जानकारी प्राप्त होने पर सम्बंधित विभागों को निर्देशित किया गया। मौके से डिप्टी कलेक्टर श्री ओमनारायण सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि निमरानी की मॉडर्न डेयरी पर करीब 8 बजे अमला पहुँचा और कार्यवाही प्रारम्भ की। कार्यवाही के दौरान बड़ी मात्रा में सल्फ़रिक एसिड सहित नाइट्रिक एसिड पाया गया। ये दोनों हो तरह के एसिड बिना लाइसेंस के उपयोग में लाया जाना पाया गया है। साथ ही 50-50 किलो. की 2 यूरिया बोरी भी बरामद हुई है। कार्यवाही के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्री आरआर सोलंकी, जिला श्रम अधिकारी श्री शैलेन्द्र सोलंकी और खाद्य विभाग के दो निरीक्षक शामिल है।

हेड ऑफिस आष्ठा में ब्रांच सनावद और गणपुर में भी

डीसी श्री सिंह ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि विकास रामबहादुर ठाकुर की मॉडर्न डेयरी से 2100 किलो सल्फ़रिक एसिड और 1400 किलो नाइट्रिक एसिड बरामद हुआ है। संचालक द्वारा इसका उपयोग वाशिंग में करना बताया गया। मगर इसके लायसेन्स के दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किये जा सके। साथ ही इंडस्ट्रीज से 650 किलो मिल्क पॉवडर जप्त किया गया है। जिसकी कीमत 1 लाख 95 हजार रुपये बताई गई।

127 एसिड के खाली डिब्बे भी मिले

पूरी इंडस्ट्रीज में टीम द्वारा तगड़ी जांच की गई। यहाँ के हर हिस्से से जानकारी जुटाई गई। परिसर से ही 127 एसिड के खाली डिब्बे/केन पाई गई। इसके अलावा 19 किलो संदेहास्पद सामग्री मिली है। समाचार लिखे जाने तक इस सामग्री की जानकारी ली जा रही है।

9 सेम्पल लिए गए

मौके से प्राप्त जानकारी के अनुसार इंडस्ट्रीज से कुल 9 सेम्पल्स लिए गए हैं। इसमें 4 मिल्क पॉवडर के, 3 घी के और एक-एक दूध तथा बटर के लिए गए है। परिसर के भीतर से 1 घरेलू सिलेंडर और 4 सिलेंडर बाहर से जप्त किये गए है। डीसी श्री सिंह ने बताया कि श्रम अधिनियम के तहत भी प्रकरण बनाया गया है। जप्त सामग्री एकत्रित कर परिसर के एक कक्ष में रखकर सील किया गया है। इस पूरे प्रकरण में जांच रिर्पोट आने के बाद खाद्य सुरक्षा अधिनियम में कार्यवाही की जाएगी। इस संबंध में जानकारी जुटाई जा रही है। कार्यवाही के दौरान कसरावद एसडीएम श्री संघप्रिय, महेश्वर एसडीएम श्री मनोहर गवली, कसरावद नायब तहसलीदार श्री जाट व फूड इंस्पेक्टर श्री यूनस पाल उपस्थित रहे।