गुना पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष पर एफ आई आर की मांग

कबीर मिशन समाचार:- रामहेत बारोलिया जिला प्रतिनिधि गुना

एफआईआर कराने पार्षदों के साथ नपाध्यक्षकोतवाली जा खड़ी हुई कार्यवाई मांग को लेकरनगरपालिका अध्यक्ष सविता अरविंद गुप्ता पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने के मामले में पूर्व विधायक एवं नपाध्यक्ष लगातार घिरते जा रहे हैं। शनिवार को नपाध्यक्ष श्रीमती गुप्ता आधा दर्जन से अधिक पार्षदों के साथ सिटी कोतवाली पहुंची। यहां उन्होंने सलूजा पर उनकी शहर में प्रथम नागरिक की हैसियत से छबि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर की मांग की।

इस मौके पर सिटी कोतवाली थाना प्रभारी मदनमोहन मालवीय को सौंपे आवेदन में राजेन्द्र सिंह सलूजा के आरोपों को आपराधिक अभित्रास की श्रेणी में बताते हुए एफआईआर की मांग की। आवेदन में श्रीमती गुप्ता ने कहा कि पूर्व नपाध्यक्ष सलूजा द्वारा नपा के द्वारा कराए जाने वाले निर्माण कार्यों के ठेके दिए जाने से संबंधित घोटालों का मिथ्या आरोप लगाते हुए समाचार पत्रों में प्रकाशित कराया। जबकि आवेदिका द्वारा किसी भी प्रकार का कोई घोटाला किसी भी ठेकेदार को लाभ पहुंचाने की नियत से नहीं किया गया।

इसलिए उक्त आरोप मिथ्या आरोप की श्रेणी में होकर आपराधिक अभित्रास की श्रेणी में आता है। शहर की प्रथम नागरिक की हैसियत से उनकी साफ सुधरी छबि को धूमिल किया गया है। उक्त अपराध किए जाने के लिए सलूजा निरपेक्ष से दायित्वाधीन हैं। सभी निविदाएं ऑनलाईन थी आमंत्रित-नपाध्यक्षइस मौके पर श्रीमती गुप्ता ने कहा कि नपा के निर्माण कार्यों में यदि अधिक दरें होती तो घोटालों का आरोप लगाया जा सकता था।

किंतु सलूजा ने कम दर पर निर्माण कार्यों के ठेके दिए जाने का आरोप लगाया है उक्त आरोप इसलिए भी मिथ्या आरोप की श्रेणी में हैं क्योंकि निविदाएं ऑनलाईन आमंत्रित की जाती हैं। समस्त प्रक्रिया ऑनलाईन ही संपादित होती है इसलिए उक्त आरोप आपराधिक अभित्रास की श्रेणी में होकर मानहानि जनक हैं।

नपाध्यक्ष के साथ आएं उपाध्यक्ष और पार्षदइस दौरान नपाध्यक्ष श्रीमती गुप्ता के साथ नपा उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र सोनी, पार्षद कैलाश धाकड़, बृजेश राठौर, ममता तोमर, अनीता कुशवाह, महेश कुशवाह, महेन्द्र कुशवाह,, राजू ओझा, दिनेश शर्मा, तरुण मालवीय, लक्ष्मण जाटव, लालाराम लोधा, बहादुर सिंह, राजेश साहू, दिनेश कोरी, फूल बाई ओझा, लालाराम लोधा, शिवनारायण कुशवाह, राधा बाई कुशवाह, सुशीला जगदीश कुशवाह तथा ठेकेदारों में विजय सिह नरवरिया, सीताराम रघुवंशी, कमलेश शर्मा, धनश्याम रघुवंशी, इकरार बल्ला, राजकुमार राठौर, विनोद शर्मा, सुधीर शर्मा, राकेश कुलश्रेष्ठ सहित अनेक ठेकेदार उपस्थित हुए।