उज्जैन

उज्जैन जिले में बाढ़ की स्तिथि, राहत व बचाव के कार्य जारी

उज्जैन जिले में बाढ़ की स्तिथि, राहत व बचाव के कार्य जारी

उज्जैन 17 सितम्बर। उज्जैन जिले में 17 सितम्बर की सुबह समाप्त हुए पिछले 24 घण्टो में औसत 78.4 मी.मी. वर्षा रिकॉर्ड की गई है। जिले में 1 जून से आज दिनांक तक की कुल वर्षा 908.8 मी.मी. है।

उज्जैन जिले के कई ग्रामो में बाढ की स्थिति है। कुछ ग्रामों की रपट/पुलियाओं पर पानी होने की स्थिति में बेरिकेड्स लगाए जाकर रास्ते को बंद किया गया है।

तहसील उज्जैन नगर में क्षिप्रा नदी का जल स्तर बढा हुआ है किन्तु स्थिति नियंत्रित है। 16 एवं 17 सितम्बर में नागदा में 150, तहसील खाचरौद में 07, तहसील कोठीमहल में 110, तहसील महिदपुर में 124, तहसील झारडा में 03, तहसील बड़नगर मे 150 लोगों को वर्षा के पानी के भराव के कारण रेस्क्यू कर अन्य सुरक्षित स्थानों पर ठहराया गया है। जिला प्रशासन उज्जैन द्वारा शिविरों में भोजन पैकेट्स की व्यवस्था ऐतिहातन भी करवायी जा रही है। कलेक्टर श्री कुमार पुरषोत्तम द्वारा निरन्तर स्थिति पर नजर रखी जा रही है तथा उनके मार्गदर्शन में राजस्व अधिकारी, पुलिस एवं होमगार्ड्स, लोक निर्माण विभाग, नगर निगम/नगरपालिका की टीम लगातार मुस्तैदी से अपने कर्तव्य स्थल पर तैनात रहकर कार्य कर रही है।जिले की वर्तमान स्थिति नियंत्रण में है।

नागदा में कुल 10 शिविर बनाए हैं

5 शिविरो में लगभग 150 -200 लोगो को रूकवाया गया है ।

5 स्थाई शिविर अभी खाली हैं

सभी के भोजन की व्यवस्था नगर पालिका के माध्यम से की जा रही प्राप्त सूचना अनुसार उन्हेल क्षेत्र के चंबल पाटलिया, चावड, राजोटा, पिपलोदा सगोती माता, आरोलिया जस्सा गांव टापू में तब्दील हो गए है, रेस्क्यू कार्य के लिये टीम रवाना हो गई है।

About The Author

Related posts