उत्तरप्रदेश क्राइम

थाना कसया 112 वाहन 2511 के समाने ही ईट पत्थर, गाली गुप्ता होता रहा और पुलिस आदेश के इंतजार में झगड़ा देखती नजर आई।

थाना कसया 112 वाहन 2511 के समाने ही ईट पत्थर, गाली गुप्ता होता रहा और पुलिस आदेश के इंतजार में झगड़ा देखती नजर आई।

जिला ब्यूरो चीफ योगेश गोविन्द राव कबीर मिशन समाचार पत्र कुशीनगर उत्तर प्रदेश।

कुशीनगर के थाना/ क्षेत्र कसया कुड़वा उर्फ दिलीपनगर सीताराम टोला का एक बड़ा मामाला प्रकाश में आया है l आपको बताते चलें कि आज रात करीब 8 बजे दो पक्षों में आपसी विवाद के चलते झगड़ा हो गया l काफी तादात में ईट पत्थर भी चली है l जिसमे एक पक्ष से एक लड़की को चोट आई है l जबकि दूसरा पक्ष गंभीर रूप से घायल पडा मिला है l और दूसरे पक्षों के लगभग 4 लड़की है l जिसमे उन लोगों को भी चोट आई है l

वे अपनी जान बचाने के लिए अपना घर का दरवाजा बंद कर घर में छुप गई थी l सूत्रों के हवाले से थाना कसया से 112 नंबर की चार पहिया वाहन 2511 में एक पुलिस महिला साथ में दो पुलिस मौके पर पहुंचे लेकिन तभी भी झगड़ा हो रहा था l झगड़ा शान्त कराने के एवज में पत्रकार राजन सिंह ने पुलिस कर्मी को घटना स्थल के किनारे खडा देखकर उनसे कहा कि सर आप लोग थाने से आए हैं तो क्यों नहीं झगड़ा शांत करा रहे हैं l तो तभी महिला पुलिस ने कहा कि हम लोग क्या कर सकते हैं, मेरे अधिकारी का कोई आदेश नहीं है l जो करना होगा वह अधिकारी करेंगे l महिलाओं में इतना ज्यादा झगड़ा होने के बाद भी महिला पुलिस गाड़ी से बैठी रही l

इस प्रकार पुलिस के समाने ही गाली गुप्ता देते हुए दोनों पक्ष आपस में झगड़ती रही, इसमें बीच बचाव गाव निवासी पिंटू यादव, बी. पी. यादव, इत्यादि लोग करने के लिए आगे आएं किन्तु झगड़ा शांत नहीं हुआ l तब किसी ने फोन करके दूसरा प्रशासन के रूप मे पुलिस शैलेन्द्र, व पुलिस सत्य प्रकाश बुलाया l घटना स्थल पर पुलिस सत्य प्रकाश को आते ही पहली प्रशासन 112 के पुलिस उनसे कुछ कहा सुनी हुई जिसके उपरांत 112 की चार पहिया गाड़ी 2511 थाना वापस खाली चली गई l लेकिन कहा गया है कि सभी इंसान एक जैसे नहीं होते हैं, अभी भी कुछ पुलिस कर्मी के अंदर इंसानियत जिंदा है, जिससे लोग पुलिस पर भरोसा करते हैं l

उसी का जीता जागता उदाहरण सत्य प्रकाश और शैलेन्द्र पुलिस के दिल में मिला l इन्होंने अपनी गाड़ी से आते ही तत्काल प्रभाव से दोनों पक्षों को किसी तरह समझा बुझाकर झगड़ा शांत कराया l और दूसरे पक्ष को अपने साथ बाईक पर ही इलाज कराने के लिए सरकारी अस्पताल पहुचाया l जहा मरीज़ का प्राथमिक उपचार किया गया l इसी बीच पत्रकार राजन सिंह ने फोन करके फाजिलनगर से एम्बुलेंस बुलाया जिसमे प्रथम पक्ष को कसया अस्पताल पहुचाया गया l इस मौके पर जो भी लोग मौजूद रहे l उन्होंने शैलेन्द्र व सत्य प्रकाश पुलिस कर्मी की बहुत प्रशंसा की है l जो चर्चा का विषय बना है l

About The Author

Related posts