उत्तरप्रदेश

त्रिवेणी चीनी मिल पर 31वा किसान शहीद दिवस कार्यक्रम मनाया गया।

त्रिवेणी चीनी मिल पर 31वा किसान शहीद दिवस कार्यक्रम मनाया गया।

पूर्व राज्य मंत्री राधेश्याम ने कहा कि मैं जब तक रहूंगा तब तक शहीद हुए किसानों का पुण्यतिथि मनाते रहेंगे।

जिला ब्यूरो चीफ योगेश गोविन्दराव कबीर मिशन समाचार पत्र कुशीनगर उत्तर प्रदेश।कुशीनगर/ रामकोला में 10 सितम्बर 1992 में बकाया गन्ना मूल्य भुगतान की मांग को लेकर किसान नेता राधेश्याम सिंह के नेतृत्व आन्दोलन कर रहे किसानों पर हुए पुलिसिया कार्यवाही में चली गोली में शहीद हुए किसानों पडोही हरिजन एवं जमीदार मिया के शहीद स्थल पर पहुच कर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री ब्रह्माशंकर त्रिपाठी एवं कार्यक्रम के आयोजक पूर्व मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार राधेश्याम सिंह ने उनके स्मारक पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने के उपरांत शहीद दिवस कार्यक्रम में आए

किसानों संबोधित करते हुए कार्यक्रम के आयोजक प्रदेश सरकार पूर्व मंत्री राधेश्याम सिंह ने कहा कि जबसे भाजपा की डबल इंजन की सरकार बनी है देश मे मंहगाई चरम सीमा पर पहुच गई है लेकिन किसान विरोधी यह भाजपा सरकार पिछले साल एक भी रुपये गन्ना का मूल्य नही बढ़ाई मै प्रदेश सरकार से मांग करता हु की मंहगाई को देखते हुए गन्ना मूल्य चार सौ रुपए प्रति कुंतल निर्धारित करे। पूर्व मंत्री श्री राधेश्याम सिंह ने आगे कहा कि 1992 में रामकोला चीनी मिल पर गन्ना किसानों का 10 करोड़ भुगतान बाकी था तब भी भाजपा की सरकार थी और अपने मांगो को लेकर आंदोलन कर रहे निहत्थे किसानों पर यह जुल्मी सरकार गोली चलवा दी थी

और आज कप्तानगंज बन्द चीनी मिल पर किसानों का 42 करोड़ और मजदूरों का 9 करोड़ बकाया है लेकिन सरकार बहरी बानी हुई है, अगर कप्तानगंज चीनी मिल क्षेत्र के किसान साथ दे तो जिलाधिकारी का घेराव कर 72 घण्टे में भुगतान करा दुंगा।उन्होंने आगे कहा कि सरकार से ज्यादा ताकतवर जानता होती है,जनता को अपने अधिकारों के लिए लड़ना पड़ता है।श्री राधेश्याम सिंह ने शहीद किसान दिवस पर कहा कि जब तक मैं जीवित रहूंगा शहीद दिवस कार्यक्रम आयेजित होता रहेगा, आप से मेरी गुजारिस है कि आप चरित्र देख कर अपना मत दे साथ ही आगामी 32वी किसान शहीद दिवस आप खुद मनाए।

सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री ब्रह्माशंकर त्रिपाठी ने कहा कि 2024 लोकतंत्र व संविधान बचाने के लिए अंतिम चुनाव है अगर भाजपा की सरकार केंद्र में पुनः बनती है तो भाजपा सरकार संबिधान बदल देगी और आप गुलाम बना दिए जाएंगे इस लिए 2024 में संबिधान और देश को बचाने के लिए इंडिया गठबंधन को मतदान करे तथा भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए सपथ लेकर जाए।कार्यक्रम की अध्यक्षता रामप्यारे कुशवाहा एवं संचालन राजेश्वर गोविन्द राव, मुन्ना बाबू ने की।

किसान शहीद दिवस कार्यक्रम को मुख्य रुप से एमएलसी राम अवध यादव ,पूर्व विधायक पूर्णवासी देहाती,नथुनी कुशवाहा,रणविजय सिंह मोहनबाबू, ब्लाक प्रमुख दिग्विजय सिंह लक्ष्मण ,एके बादल,सतीश चकन्द,अवनीश यादव,परेज आलम,निठुरी राजभर,सुग्रीव शन्त, रामसूरत शर्मा,कैलाश यादव,जनार्दन यादव, देवेंदर यादव,,राजेंद्र यादव उर्फ मुन्ना यादव, अजीमुल्लाह राही,विजय यादव,बाबूलाल यादव, राजन कुंवर सिंह, साहिब अली, अजय सिंह आदि लोग मौजूद रहे।

About The Author

Related posts