एफएसएसएआई (भारत सरकार) द्वारा उज्जैन के दो स्थलों को मिला प्रमाणन, उज्जैन रेल्वे स्टेशन को 5 स्टार ईट राइट रेल्वे स्टेशन का सर्टिफिकेशन, चामुण्डा माता मंदिर व इस्कॉन मंदिर को भोग सर्टिफिकेशन

उज्जैन 28 नवम्बर। आमजन एवं खाद्य कारोबारकर्ताओं में स्वस्थ, सुरक्षित एवं फोर्टिफाईड खाद्य पदार्थों के निर्माण, विक्रय व उपभोग की संस्कृति विकसित करने तथा खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम-2006 के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI), भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा सम्पूर्ण भारत में ईट राईट चैलेंज (द्वितीय चरण) प्रतियोगिता आयोजित की गई थी, जिसमें उज्जैन जिले द्वारा सहभागिता की गई।

कलेक्टर श्री आशीष सिंह के मार्गदर्शन में खाद्य सुरक्षा प्रशासन द्वारा ईट राईट चैलेंज प्रतियोगिता अंतर्गत निर्धारित समस्त लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु कार्य किया गया, जिसके अंतर्गत उज्जैन रेल्वे स्टेशन, चामुण्डा माता मंदिर एवं इस्कॉन मंदिर को भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण, भारत सरकार द्वारा प्रमाणित किया गया है।

ईट राइट रेल्वे स्टेशन- भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण द्वारा रेल्वे स्टेशन पर स्वाथ्यवर्धक एवं पौषक खान-पान की प्रवृत्ति विकसित करने के लिये ईट राइट रेल्वे स्टेशन बनाने का लक्ष्य रखा गया है। ईट राइट रेल्वे स्टेशन हेतु एफएसएसएआई के पोर्टल पर रजिस्टर्ड कर प्री-ऑडिट किया जाकर पाई गई कमियाँ दूर कर एफएसएसएआई द्वारा अधिकृत ऑडिट एजेंसी द्वारा विभिन्न मापदण्डों जैसे – सभी स्टॉल होल्डर के खाद्य लायसेंस, परिसर की स्वच्छता, कर्मचारियों की व्यैक्तिक स्वच्छता, पानी की जाँच, कच्ची व तैयार खाद्य सामग्री की जाँच, कर्मचारियों के मेडिकल चेकअप, पेस्ट कंट्रोल रिकॉर्ड, कर्मचारियों का फोस्टेक प्रशिक्षण, फूड सेफ्टी डिस्पले बोर्ड का प्रदर्शन आदि के आधार पर ऑडिट किया गया, जिसमें प्राप्त पांईट्स के आधार पर उज्जैन रेल्वे स्टेशन को 5 स्टार ईट राइट स्टेशन घोषित किया गया।

भोग (BHOG – Blissful Hygienic Offering to God) योजना- भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) नईदिल्ली द्वारा भारत के धार्मिक स्थानों में दर्शिनार्थियों को स्वच्छ एवं सुरक्षित भोग प्रसाद एवं भोजन उपलब्ध हो सके, इसके लिये भोग (BHOG – Blissful Hygienic Offering to God ईश्वर को आनन्दपूर्ण स्वच्छ चढ़ावा) नामक पहल शुरू की गई है। खाद्य सुरक्षा प्रशासन उज्जैन द्वारा भोग प्रमाणन के मापदण्डों के आधार पर चामुण्डा माता मंदिर एवं इस्कॉन मंदिर के साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया गया, जिसके फलस्वरूप एफएसएसएआई की ऑडिट एजेंसी की ऑडिट रिपोर्ट के आधार पर दोनों मंदिरों को भोग का सर्टिफिकेशन प्राप्त हुआ है। पूर्व में विभाग एवं श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रंबंध समिति के संयुक्त प्रयासों से श्री महाकालेश्वर मंदिर को देश का प्रथम सेफ भोग सर्टिफिकेशन प्राप्त हो चुका है।

कलेक्टर श्री आशीष सिंह द्वारा इस अवसर पर रेल्वे के प्रतिनिधि श्री आर.सी. शर्मा खाद्य सुरक्षा अधिकारी वेर्स्टन रेल्वे, पंडित श्री सुनील चौबे महंत चामुण्डा माता मंदिर, श्री राजेन्द्र शाह समिति सदस्य चामुण्डा माता मंदिर एवं श्री विवेक मण्डलोई प्रतिनिधि इस्कॉन मंदिर को सर्टिफिकेट प्रदान किये एवं इस कार्य में शामिल अधिकारियों एवं शहरवासियों को शुभकामनाएँ प्रेषित की गई।