क्राइम देश-विदेश भोपाल मध्यप्रदेश राजनीति शिक्षा सीधी

मप्र। सीधी के एससी एसटी छात्रावास को भाजपा नेता ने बनाया शराब चिकन का अड्डा, वीडियो वायरल होने के बाद छात्रों के साथ मारपीट

मप्र। सीधी के एससी एसटी छात्रावास को भाजपा नेता ने बनाया शराब चिकन का अड्डा, वीडियो वायरल होने के बाद छात्रों के साथ मारपीट

मध्यप्रदेश के सीधी जिले से लगातार आदिवासी विरोधी गतिविधियां रूकने का नाम नहीं ले रही है। ट्विटर पर फिर से एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा जो सारे हदे पार हो रही है।

ट्राइबल आर्मी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि सीधी के विधायक केदारनाथ शुक्ला के खास आदमी और बीजेपी नेता अंबुज सिंह व अन्य साथियों ने अनुसूचित जाति जनजाति पोस्ट मैट्रिक छात्रावास को शराब पीने का अड्डा बना रखा है।

हॉस्टल के एक दलित छात्र ने शराब सिगरेट पीते हुए जब इनके वीडियो बनाए तो इन लोगों ने वहां पहुँच कर तीन लड़कों के साथ बेरहमी से मारपीट की। कुछ दिनों पहले केदारनाथ शुक्ला के ही खास आदमी प्रवेश शुक्ला द्वारा एक आदिवासी युवक पर पेसाब किया गया था। जिसको पुरे देश को झकझोर दिया था। ख़बर इतनी बड़ी हो गई कि प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान को उसके पैर धोना पड़ा था।

वहीं कुछ लोग आदिवासी के ऊपर हाथ धोकर पड़े हैं। हम मप्र सरकार और प्रशासन से सभी आरोपियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की मांग करते है।लगातार सत्ता प्राप्त कर रही भाजपा सरकार को अहम आ गया है उसे कोई सत्ता से नहीं हटा सकते हैं और इसी के कारण भाजपा के दबंग लोग बिना डर और कानून नियमों को ताक पर रखकर अनेक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

चाहे वहां मप्र की कोई भी घटना हो उसमें बीजेपी का लिंक निकल ही आता है। होस्टल में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों को शिक्षा प्रदान करने के लिए बनाया जाता है न कि शराब पीकर चिकन खाना। ऐसा करते हुए जब एक छात्र ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया तो उनके साथ मारपीट की गई। साथ ही एक और वीडियो आता है कि होस्टल पर ताला लगा दिया और किसी भी छात्र से मिलने नहीं दिया जा रहा। यह होस्टल के अधिकारी की भी बड़ी ग़लती है।

About The Author

Related posts