गांव के रास्ते हुए बदहाल गांव में गंदगी का अंबार लगा है साफ-सफाई के अभाव में रास्ते गंदगी और कीचड़ से पटे पड़े हैं। पंचायत सफाईकर्मी वर्षों से नहीं दिखाई दिए, जिम्मेदार अधिकारी गांव की ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे

रिपोर्टर:- राहुल रत्न, बलरामपुर

बलरामपुर मे ब्लॉक क्षेत्र उतरौला के गौरवन डीह गांव में आज भी विकास के लिए तरस रहा है। आलम यह है कि गांव के तमाम रास्ते कच्चे पड़े हैं और नालियों के अभाव में रास्ते दलदल में तब्दील होते जा रहे हैं। ग्रामीणों की मांग के बाद भी जनप्रतिनिधियों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया।गांव के बाहर से बाजार की ओर जाने वाला रास्ता कीचड़ से सराबोर रहता है जिससे होकर गुजरना काफी परेशानी भरा है। गौरवन डीह गांव की नहीं बनवाई गई नालियों की एक बार भी सफाई नहीं कराई गई जिसके चलते गंदगी से बज-बजाती नालियों से उठने वाली दुर्गंध से खाफी दिक्कत हो रही है ग्रामीणों को तो वहीं गंदगी में पनपने वाले मच्छर-मक्खियों एवं अन्य जीवों से संक्रामक बीमारी फैलने को संभावना बनी हुई है। नालियों की गंदगी सड़क पर बह रही है। गांव में विकास के नाम पर पिछली पंचायत द्वारा थोड़ी से नहीं रोड बनवाई गई वहीं मनरेगा योजना के तहत भी कोई काम गांव में नहीं करवाया गया।


चौराहे से गांव को जाने वाला रास्ता जर्जर और उखड़ा पड़ा है, ग्रामीणों का काफी दिक्कत होती है, ग्रामीणों को कई बार मांग रखने के बाद भी गौरवन डीह गांव मे पक्की सड़क नहीं बनाई गई।गांव मे हैंडपंप स्थापना के नाम पर खिलवाड़ हुआ। गांव में गंदगी का अंबार लगा है। साफ-सफाई के अभाव में रास्ते गंदगी और कीचड़ से पटे पड़े हैं। पंचायत सफाईकर्मी वर्षों से नहीं दिखाई दिए, जिम्मेदार अधिकारी गांव की ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे।