उज्जैन

उज्जैन- नागपंचमी पर दर्शनार्थियों के लिये की जाने वाली व्यवस्थाओं को दिया जा रहा है अन्तिम रूप, कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने आज व्यवस्थाओं का जायजा लिया

उज्जैन- नागपंचमी पर दर्शनार्थियों के लिये की जाने वाली व्यवस्थाओं को दिया जा रहा है अन्तिम रूप, कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने आज व्यवस्थाओं का जायजा लिया

उज्जैन 18 अगस्त। नागपंचमी पर्व (21 अगस्त) के अवसर पर दर्शनार्थियों के लिये दर्शन व्यवस्था युद्धस्तर पर सुनिश्चित की जा रही है। दर्शन व्यवस्था के लिये की जा रही तैयारियॉ अन्तिम चरण में है। कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम एवं पुलिस अधीक्षक श्री सचिन शर्मा ने आज भगवान महाकालेश्वर एवं भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन हेतु की जा रही पृथक-पृथक व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं दिशा-निर्देश दिये। कलेक्टर ने त्रिवेणी संग्रहालय स्थित पार्किंग के पीछे से चारधाम मन्दिर वाले मार्ग को जोड़ने वाले कच्चे रास्ते का आज अवलोकन किया तथा वैकल्पिक रूप से भगवान महाकालेश्वर के दर्शन हेतु आने वाले दर्शनार्थियों के उपयोगार्थ इस मार्ग को ठीक करने के निर्देश स्मार्ट सिटी के अधीक्षण यंत्री को दिये हैं।

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने कर्कराज पार्किंग पर की जा रही व्यवस्थाओं पर संतोष जताया। इसके बाद उन्होंने भील समाज धर्मशाला पर बनाये जाने वाले जूता स्टेण्ड के स्थल का निरीक्षण किया। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक श्रद्धालुओं के लिये निर्धारित किये मार्ग से होते हुए नागचंद्रेश्वर मन्दिर पहुंचे। यहां पर उन्होंने प्रवेश एवं निर्गम के लिये की जा रही पृथक-पृथक व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। कलेक्टर ने मन्दिर प्रशासक श्री संदीप सोनी को निर्देश दिये हैं कि वे यात्रियों की सुविधा के लिये पर्याप्त पेयजल, शौचालय एवं छाया की व्यवस्था करें। निरीक्षण के दौरान नगर निगम आयुक्त श्री रोशन सिंह, श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रशासक श्री संदीप सोनी, एडीएम श्री अनुकूल जैन, स्मार्ट सिटी के अधीक्षण यंत्री श्री नीरज पाण्डे, लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण यंत्री श्री गणेश पटेल सहित सम्बन्धित अधिकारी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन करने हेतु श्रद्धालु कर्कराज पार्किंग से गंगा गार्डन वाले रास्ते से होकर हरसिद्धि होल्डअप में पहुंचेंगे। यहां से वे बड़ा गणेश के सामने 4 नम्बर गेट से होकर एयरो ब्रिज तक पहुंचेंगे। एयरो ब्रिज से होकर भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन करने के उपरांत दशनार्थी सभा मण्डप की छत से होकर निर्गम द्वार से होकर पुन: हरसिद्धि चौराहे तक जायेंगे। यहां से नृसिंह घाट होकर भील समाज धर्मशाला जूता स्टेण्ड तक पहुंचेंगे।

About The Author

Related posts