संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को उतारे हम अपने आचरण में — ओजस्वी

भारत के महान समाज सुधारक, डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को खासकर अछूतो, व देश में सामाजिक समानता लाने के जनक महान मसीहा डॉक्टर अंबेडकर विलक्षण प्रतिभा, नेतृत्व क्षमता, तथा राष्ट्र भाव से भरे हुए महान राष्ट्र भक्त थे।

भारतीय, भारतीय दलित साहित्य अकादमी के चितौडगढ जिला अध्यक्ष मदन सालवी ओजस्वी ने बताया कि उनके 132 वें जन्म उत्सव पर हर गांव, हर शहर, में जागरूकता, जन जागरूकता के लिए गोष्टीयों का आयोजन हों, सभाओं, जुलूस सांस्कृतिक कार्यक्रम, आदि जगह जगह आयोजन हों, बाबा साहब की देन विषय पर जन जन में जागरूकता लाई जाए ।

बाबा साहब की योग्यता एवं योगदान से जन-जन को लगातार अवगत कराते हुए उनके बताए रास्ते पर चलने की सभी को जरूरत है । ओजस्वी ने बताया हमें अब अंधविश्वास आडम्बर रूढ़ीवाद पर चलने की जरूरत नहीं है।

पढ़ लिख कर हमें बहुत कुछ आगे बढ़ने की जरूरत है ।हम सामाजिक कुरीतियों का पूर्ण त्याग करें। कुप्रथाऐ हमारे पतन का मुख्य कारण है। बाबा साहब अंबेडकर मानवतावादी राष्ट्रप्रेम तथा विराट व्यक्तित्व के धनी थे। वे दुनिया के महान समाज सुधारक रहे हैं,

बाबा साहब की विचारधारा को समझें तथा हमारे जीवन में आचरण में उतारें, तभी हम जीवन में जिंदा रहकर सफल हो सकते हैं।

मदन सालवी ओजस्वी जिलाध्यक्ष भारतीय दलित साहित्य अकादमिक चितौडगढ राजस्थान 95888-326737