इंदौर धार मध्यप्रदेश शिक्षा

आदिवासी छात्र संगठन ने बी.एस.सी नर्सिंग के 2 से 3 वर्ष परीक्षा नहीं हुई उन छात्रों को जनरल प्रमोशन देने व आदिवासी विद्यार्थियों की अन्य 15 सूत्री मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम धार जिला मुख्यालय पर सौंपा ज्ञापन

आदिवासी छात्र संगठन ने बी.एस.सी नर्सिंग के 2 से 3 वर्ष परीक्षा नहीं हुई उन छात्रों को जनरल प्रमोशन देने व आदिवासी विद्यार्थियों की अन्य 15 सूत्री मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम धार जिला मुख्यालय पर सौंपा ज्ञापन

धार – आदिवासी छात्र संगठन मध्य प्रदेश द्वारा 21 जुलाई से 1 जून तक मालवा निमाड़ के 10 आदिवासी बाहुल्य जिलों व 37 आदिवासी ब्लॉकों में विद्यार्थी संवाद यात्रा निकाली गई थी, इस दौरान आदिवासी विद्यार्थियों की कई समस्या संगठन के संज्ञान में आई थी।


जिसमें
1.प्रमुख मांग निजी बी.एस.सी नर्सिंग जी.एन.एम महाविद्यालय में प्रवेश छात्रों की पिछले 2 से 3 वर्ष से परीक्षा आयोजित नहीं की गई उन सभी छात्रो को जनरल प्रमोशन दिया जाए।

  1. आजादी के बाद भी अब तक छात्रावासों की सीटों की संख्या में वृद्धि नहीं की गई जबकि जनसंख्या कई गुना बढ़ गई जनसंख्या वह प्राप्त आवेदनों के अनुपात में छात्रावासों की सीटों की संख्या में वृद्धि की जाए साथी ब्लॉक स्तर पर 200 सीटर जिला मुख्यालय पर 1000 सीटर व संभाग स्तर पर 2500 सीटर महाविद्यालय छात्रावास का निर्माण होना चाहिए।
  2. स्कॉलर आवास सहायता की राशि महंगाई के अनुपात में वृद्धि की जाकर शिक्षण सत्र के प्रारंभ में दी जाए।
  3. प्रदेश के कई महाविद्यालय स्कूलों में अतिथि विद्वानों के भरोसे चल रहे वहां पर स्थाई प्रोफेसर व शिक्षक की भर्ती की जाए।
    5.विद्यालय एवं महाविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियों के सिलेबस की बुक व स्टेशनरी शिक्षण संस्था के प्रारंभ में प्रदान की जाए।
  1. जिन आदिवासी छात्रों के परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर है उन छात्रों के लिए बेरोजगारी भत्ता दिया जाना चाहिए जिन्हें प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करने हेतु आर्थिक समस्याओं का सामना करना ना पड़े। व अन्य 15 सूत्री मांगों को लेकर धार जिला मुख्यालय पर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया ज्ञापन के दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष महेश डामर जिला उपाध्यक्ष राकेश अखाड़िया हजारों की संख्या में छात्र-छात्राएं और संगठन के कार्यकर्ता और पदाधिकारी उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts