धार

खलघाट- एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन

खलघाट- एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन

कबीर मिशन समाचार
पवन सावले खलघाट

धामनोद:-शहर के शासकीय महाविद्यालय धामनोद में एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आरंभ ज्ञान की देवी मां सरस्वती के पूजन एवं वंदना प्रीति शर्मा ने प्रस्तुत की। इस एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का विषय “मूल्य आधारित शिक्षा के उद्देश्य और प्रभाव”यह विषय प्रायोजक उच्च शिक्षा विभाग मध्य प्रदेश शासन भोपाल द्वारा दिया गया था

जिसको महाविद्यालय परिवार नैतिक शिक्षा के गिरते मूल्य के कारण चुना गया था जैसे भौतिकवाद का प्रभाव, सामाजिक संवेदना का अभाव, स्वार्थ की भावना, सामाजिक अनुशासनहीनता, पर संस्कृतिकरण, पारिवारिक संरचना का बदलना मुख्य बिंदु थे। इस राष्ट्रीय वेबीनार में अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा विभाग इंदौर से डा. किरण बाला सलूजा, डॉ एसएस बघेल अग्रणी महाविद्यालय धार के मार्गदर्शन में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया।

जन भागीदारी अध्यक्ष श्री सोहन वास्केल शासकीय महाविद्यालय धामनोद के संरक्षण में एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार किया गया। कार्यक्रम के प्रथम वक्ता डॉ. नागेश शालीमथ कर्नाटक ने कहा कि बच्चों में व्यक्तित्व विकास, शिष्टाचार, जिम्मेदार की भावना, सहयोग की भावना, अच्छे नागरिक के गुण, दूसरों के प्रति आभार सम्मान, खुद पर विश्वास करना, निर्णय लेने की क्षमता विकसित करना की अति आवश्यकता है जिससे मूल्य आधारित शिक्षा के माध्यम से सर्वांगीण विकास होता है।

दिव्तीय प्रमुख वक्ता डॉ देवेंद्र मुजाल्दा राजस्थान ने कहा कि मूल्य आधारित शिक्षा के स्रोत घर, समुदाय, विद्यालय, महाविद्यालय, सांस्कृतिक कार्यक्रम, धर्म की पुस्तकें ,भारतीय संविधान, भारतीय दर्शन आदि है। तथा आगे कहा कि मूल्य आधारित शिक्षा के उद्देश्य देश भक्ति की भावना, अच्छे नागरिक के मूल्य में वृद्धि, छात्रों को सामाजिक, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भाईचारे की भावना का विकास करना, तथा जिज्ञासा की भावना में वृद्धि करना है।

वेबीनार प्रभारी डॉ एस आर बघेल के द्वारा मूल्य आधारित शिक्षा के उद्देश्य और प्रभाव पर पर अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत किया तथा उन्होंने कहा कि इस वेबीनार में 170 शोधार्थी, छात्र-छात्राएं, और प्राध्यापक,सहायक प्राध्यापक ,अतिथि विद्वानों का पंजीकरण हुआ । जिसमें मध्य प्रदेश के साथ अन्य राज्यों के शोधार्थियों ने भी जुड़कर इस वेबीनार का लाभार्जन किया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ वीणा बरडे ने कहा कि महाविद्यालय के संपूर्ण स्टाफ के सहयोग से यह कार्यक्रम आयोजित हुआ।

वरिष्ठ प्रोफेसर अभय सिंह मंडलोई के सहयोग से वेबीनार सफलतापूर्वक किया गया। वेबीनार के तकनीकी प्रभारी श्री अश्विन सिंह तोमर ने गूगल मीट और यूट्यूब पर आनलाईन प्रसारण की व्यवस्था की गई। कार्यक्रम का संचालन डॉ. एस आर बघेल एवं श्री अश्विन सिंह तोमर द्वारा किया गया। अंत में आभार डॉ आर रावत एवं डॉ रंजीता वास्केल द्वारा आभार व्यक्त किया गया।

About The Author

Related posts